रोहतक के रिटायर्ड आर्मी मेजर ने प्लाट बेचकर की एक करोड़ की धोखाधड़ी, जानें पूरा मामला

रोहतक | PUBLISHED BY: GARIMA-TIMES | PUBLISHED ON: 26 JAN, 2022

 सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

रोहतक। हिसार शहर के एक प्रॉपर्टी डीलर व एक महिला ने रोहतक के सेवानिवृत्त मेजर जनरल पर 1 करोड़ 11 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है। इस बारे में हिसार में भरोसा प्रॉपर्टीज नाम से डिलिंग करने वाले अमित कुकरेजा ने आरोपी रोहतक निवासी शमशेर सिंह के खिलाफ केस दर्ज कराया है। ठगी का यह मामला हिसार के सेक्टर 5 में 538 गज के प्लॉट से जुड़ा बताया जा रहा है। पीड़ित पक्ष का कहना है कि शमशेर सिंह ने प्लॉट बेचने के नाम पर हिसार निवासी ऊषा पूनिया से राशि हड़पी है और प्रॉपर्टी डीलर अमित कुकरेजा ने यह सौदा करवाया था। 

हेतराम पार्क कालोनी निवासी अमित कुकरेजा  ने रोहतक के रिटायर्ड मेजर जनरल पर प्लाट बेचने के नाम पर एक करोड़ की धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। उसने मामले में अर्बन एस्टेट थाना पुलिस को शिकायत दी है। पुलिस को दी शिकायत में अमित कुकरेजा ने बताया कि उसका माडल टाउन में “भरोसा प्रोपर्टीज” के नाम से कार्यालय है। उसने बताया कि एक रिहायशी प्लाट जो हिसार सेक्टर 5 में है, उसे बेचने के लिए शमशेर सिंह ने इंटरनेट के माध्यम से उसका नंबर लेकर फोन करके अपना प्लाट बेचने की पेशकश की।

उसने इस सौदे के लिए ग्राहक ढूंढ़ने की कोशिश की। लेकिन उस कीमत का कोई ग्राहक बाजार में नहीं मिला। क्योंकि उन दिनों सेक्टर-5, में लगभग 6000 प्रति वर्ग गज की एन्हांसमेंट आई हुई थी। जनवरी 2019 से अक्टूबर 2019 तक प्लाट के सौदे तथा मोलभाव बारे आरोपित से कई बार फोन पर बात हुई। आरोपित ने उसे बताया की उसने हुडा में प्लाट के लिए लगभग 55.50 लाख रुपये भरे हुए है। उसे कम से कम भरे हुए पैसे तो मिलने ही चाहिए।

अमित कुकरेजा ने बताया कि आरोपी शमशेर सिंह ने उससे कहा था कि वह सेक्टर 5 में स्थित अपना प्लॉट बेचना चाहता है। अमित के अनुसार उन दोनों में 12 हजार रुपये प्रति गज के हिसाब से सौदा तय हो गया था। 2 अक्तूबर को शमशेर व उसकी पत्नी ने हिसार आकर बातचीत की थी। शमशेर ने कहा था कि प्लॉट की एनहांसमेंट की राशि मेरे नाम से विभाग में जमा करवा दो, उसके बाद जो भी हिसाब होगा, वह कर लेंगे। 31 जनवरी को शमशेर ने उनसे बयाना के नाम के 10 लाख रुपये ले लिए और उसके बाद 31 जुलाई का प्लॉट की कीमत के बकाया 64 लाख रुपये ले गया।

शमशेर ने उससे कहा था कि अगर वह किसी अन्य को प्लॉट बेचना चाहता है तो वह सीधा खरीदार के नाम पर प्लॉट ट्रांसफर करवा देगा। इसके बाद अमित ने उस प्लॉट का सौदा अर्बन एस्टेट निवासी वजीर पूनिया की पत्नी ऊषा पूनिया के साथ तय कर लिया। सौदा तय होने के बाद ऊषा पूनिया व अमित कुकरेजा ने 31 मार्च 2021 तक 1 करोड़ 50 लाख रुपये शमशेर के खाते में ट्रांसफर कर दिए। हिसार पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

आरोपित शमशेर सिंह ने सौदे में ये शर्त भी रख दी थी कि वह न तो 6000 प्रति वर्ग गज की एन्हांसमेंट भरेगा और न ही वह अपने नाम हुडा से स्टाम्प, रजिस्ट्रेशन का खर्चा देगा। यह खर्चा लगभग 44 लाख रूपये बनता है। जब प्लाट का कोई ग्राहक नहीं मिला तो उक्त आरोपित ने कहा कि उसे पैसों की जरूरत है, वह खुद इस प्लाट को खरीद लें, भविष्य में कोई ग्राहक मिलेगा तो वह डायरेक्ट प्लाट उसके नाम करवा देगा और आपसे जो भी रकम खाते में लेगा वह वापिस कर देगा। उक्त आरोपित के बार-बार आग्रह करने पर अमित ने स्वयं यह प्लाट खरीदने का विचार बना लिया। दो अक्टूबर 2019 को आरोपित शमशेर सिंह अपनी पत्नी के साथ उसके आफिस में आया और सौदे की बाबत सारी नियम व शर्तें साझा की और इस शर्त पर सौदा फाइनल किया कि वह उसे बयाना राशि दे दें।

अमित ने बताया कि इसके बाद उसने आरोपित को एक करोड़ 50 लाख रुपये उसके बैंक खाता में डाल दिए थे। जिसमें से आरोपित ने उसे 39 लाख रुपये वापस किए थे। लेकिन आरोपित ने प्लाट की कीमत अदा होने के बाद भी प्लाट उसके नाम नहीं किया। उसे कहा तो वह वह बार-बार टालता रहा। कभी उसने इनकम टैक्स का छापा लगने की बात कहीं तो कभी खुद के काेरोना संक्रमित होने का बहाना बनाया। पीड़ित ने बताया कि वह उनके घर गया तो आरोपित ने के बेटे ने उससे गाली -गलौच की और जान से मारने की धमकी दी। मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। 

जनरल , मेजर ,रिटायर्ड ,अमित कुकरेजा ,धोखाधड़ी ,भरोसा प्रॉपर्टीज,Haryana Crime,Haryana Crime News,Haryana Crime News in Hindi, Haryana Crime Videos,Haryana Crime Photos

खबरें और भी हैं..

अन्य समाचार