हरियाणा में सीरियल किलर गिरफ्तार, 8 घंटे में तीन हत्याओं को दिया अंजाम, पढ़े हैरान कर देने वाला खुलासा 

पानीपत | PUBLISHED BY: GARIMA-TIMES | PUBLISHED ON: 02 JUL, 2022

सीआईए 2 की गिरफ्त में सीरियल किलर आशू

सीआईए 2 की गिरफ्त में सीरियल किलर आशू

पानीपत। हरियाणा में एक ही दिन में हुई तीन हत्याओं का हैरान करने वाला पर्दाफाश हुआ है। सीआईए टू पुलिस ने पानीपत में एक सीरियल किलर को काबू किया है। जिससे पूछताछ में हत्या की तीन वारदातों का खुलासा हुआ है। आरोपी ने तीनों हत्याओं को महज आठ घंटे में अंजाम दिया। इनमें दो हत्याएं पानीपत में और एक यूपी के मुज्जफरनगर में की गई। जिन लोगों को मारा गया उनमें दो पानीपत के गांव नारा और एक यूपी के भालसी गांव का था। आरोपी की पहचान पानीपत के गांव नारा निवासी 26 वर्षीय आशू के रूप में हुई है।

हरियाणा के पानीपत जिले की सीआईए टू पुलिस ने एक सीरियल किलर को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने पूछताछ में तीन ब्लाइंड मर्डर की वारदातों का खुलासा किया है। तीनों वारदातों में दो हरियाणा के पानीपत जिले की व एक यूपी के मुज्जफरनगर जिले की है। यूपी की वारदात में पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 174ए के तहत कार्रवाई की थी। तीनों मृतकों में से दो मतलौडा के गांव नारा व एक भालसी से है। आरोपी ने महज 8 घंटे के भीतर तीन हत्याओं की वारदात को अंजाम दिया।

जानकारी देते हुए एएसपी विजय सिंह ने बताया कि पुलिस ने आरोपी आशू (26) निवासी गांव नारा को 27 जून को गिरफ्तार किया। आरोपी से प्रारंभिक पूछताछ में तीन ब्लाइंड मर्डर केसों का खुलासा हुआ। बड़ी बात यह है कि आरोपी का पहले कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है, मगर एक साथ उसने तीन मर्डर की वारदातों को अंजाम दिया है, जिससे पुलिस भी हैरान है।

आरोपी ने जब पहला मर्डर किया था, उस दौरान दो लोग उसके साथ थे। कहीं यह दो लोग किसी को बता न दें, इसलिए एक के बाद एक दोनों का भी मर्डर कर दिया। आरोपी ने बहुत ही शातिर तरीके से वारदात को अंजाम दिया। तीनों हत्याएं गला घोंट कर की गई हैं। आरोपी की आज रिमांड अवधि पूरी होने के बाद उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

एएसपी विजय सिंह ने बताया कि पहली वारदात 11 जून की रात की है। आरोपी आशू अपने गांव नारा के ही दोस्त राकेश के साथ बाइक पर सवार होकर घर जा रहा था। रास्ते में उसके गांव के ही रहने वाले सोनू (25) ने लिफ्ट मांगी। तीनों वहां से बाइक पर सवार होकर मतलौडा चले गए, जहां उन्होंने एक जगह शराब पी।

शराब पीने के दौरान मोनू नाम का युवक आ गया था। मोनू ने भी शराब पी और फिर वह घर चला गया। कुछ देर बाद सोनू ने और शराब न पीने की बात कही, जिससे उनके बीच कहासुनी हो गई। इसी कहासुनी के चलते आशू ने उसका कपड़े से गला घोंट दिया और उसकी हत्या करने के बाद शव को वहीं सड़क पर स्थित एक खोखे के पीछे फेंककर शराब पीने लगा।

सोनू की हत्या करने के बाद आशू वहीं बैठकर राकेश के साथ शराब पीने लगा था। इसी दौरान वहां मोनू फिर से आ गया, जिसने पूछा कि सोनू कहा गया, लेकिन दोनों ने उसको बातों में उलझा लिया। इस बीच मोनू ने कहा कि और शराब पीनी है, जिस पर आशू ने कहा कि चलो पानीपत पिएंगे। रास्ते में असंध रोड के नजदीक नहर किनारे मोनू का गला घोंट दिया और उसे नहर में फेंक दिया। मोनू का शव 13 जून को समालखा नहर से बरामद हुआ था। 16 जून को पुलिस ने शिनाख्त न होने पर लावारिस होने पर अंतिम संस्कार कर दिया था। 21 जून को परिजनों ने उसकी गुमशुदगी दर्ज करवाई थी।

सोनू और मोनू का मर्डर करने के बाद आशू ने अपने दोस्त राकेश को उसी रात कहा कि चल हरिद्वार चलते हैं। दोनों बाइक पर सवार होकर रात को ही हरिद्वार के लिए चल पड़े। रास्ते में यूपी के मुज्जफरनगर जिला के अंर्तगत आने वाले तितावी थाना क्षेत्र के एक ट्यूबवेल पर शराब पीने बैठ गए, जहां उसने राकेश को ज्यादा शराब पिला दी, जिससे वह मदहोश हो गया और आशू ने उसका भी गला घोंट दिया। हत्या कर ट्यूबवेल के पास ही राकेश का शव फेंक कर फरार हो गया था।

panipat crime news,crime news in hindi,latest news,news in hindi,haryana news,panipat news

खबरें और भी हैं..

अन्य समाचार