हरियाणा के इन शिक्षकों पर लटकी तलवार, शिक्षा विभाग ने इस वजह से किया तलब

भिवानी | PUBLISHED BY: GARIMA-TIMES | PUBLISHED ON: 02 JUL, 2022

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

भिवानी। हरियाणा शिक्षा विभाग ने अब से पहले भर्ती व जेबीटी से टीजीटी के पद पर पदोन्नति पाए टीचरों का रिकार्ड खंगालना शुरू कर दिया है। शिक्षा विभाग ने प्रदेश के ऐसे 3089 शिक्षकों की सूची तैयार की है, जिनकी भर्ती के दौरान का रिकार्ड नहीं मिल पाया है। विभाग ने इस तरह के टीचरों को 6 जुलाई को संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी व डीईईओ के कार्यालय में सभी दस्तावेजों के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं। इस तरह के शिक्षकों की संख्या सबसे ज्यादा हिसार में 264 तथा दूसरे नम्बर पर भिवानी के शिक्षकों की संख्या 210 है। जिनके प्रोफर्मे भरवाकर रिकार्ड की जांच करवाई जाएगी। साथ ही विभाग ने इस तरह के शिक्षकों को चेताया है कि अगर वे निर्धारित तिथि को नहीं पहुंचते तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की जाएगी।

निदेशक मौलिक शिक्षा विभाग ने पत्र क्रमाकं 20/2-2921 पीआरटी (एआरटी ) ( आई ) भेजकर सभी शिक्षकों से प्रोफार्मा भरवाए जाने के निर्देश दिए हैं। भेजे गए निर्देशों में कहा गया है कि वर्तमान मे कार्यरत जेबीटी, हैड टीचर व जेबीटी से पदोन्नत हुए टीजीटी अध्यापकों की वरिष्ठता सूची तैयार की जा रही है। जिसके चलते शिक्षकों की पूरी जानकारी हासिल किया जाना निहायत जरूरी है। जिन जेबीटी टीचरों की टीजीटी पद पर पदोन्नति हो चुकी है उनमें से करीब 3089 अध्यापकों की भर्ती से संबंधित कुछ रिकार्ड का पता नहीं चल पा रहा है। मसलन भर्ती से संबंधित विज्ञापन क्रमांक, मेरिट नम्बर, रोलनम्बर आदि शामिल है। जिसके चलते 6 जुलाई को एक प्रोफार्मा में सारी जानकारी भरवाकर टीचरों से उक्त जानकारी हासिल की जाएगी।

भेजे गए निर्देशों में कहा गया है कि इस कार्य को पूरा करवाने के लिए डिप्टी डीईओ, कम्प्यूटर ऑपरेटर व संबंधित डीलिंग की ड्यूटी लगाई जाए। ताकि समय पर पहुंचे शिक्षकों से प्रोफार्मा भरवाकर उनसे हार्ड कॉपी व सॉफ्ट कॉपी दोनों उपलब्ध करवाई जा सके। अगर किसी कार्यालय में कम्प्यूटर आपरेटर नहीं है तो वे तत्काल निदेशक कार्यालय को सूचित करें। उनकी अतिरिक्त व्यवस्था की जा सके। बताया जाता है कि शिक्षा विभाग ने इस तरह के शिक्षकों को 6 जुलाई सुबह नौ बजे जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं। अगर कोई भी शिक्षक इस मामले में कोई कोताही या लापरवाही बरतता है तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

जिला वाइज ऐसे टीचरों की संख्या

अंबाला में 100, भिवानी में 210, चंडीगढ / पंचकूला में 8, चरखी दादरी में 120, फरीदाबाद में 86, फतेहाबाद में 109, गुरुग्राम में 153, हिसार में 264, झज्जर में 109, जींद में 165, कैथल में 129, करनाल में 172, कुरुक्षेत्र में 182, महेंद्रगढ में 164, नूंह मेवात में 162, पलवल में 114, पंचकूला में 87, पानीपत में 70, रेवाड़ी में 185, रोहतक में 97, सिरसा में 160, सोनीपत में 154, यमुनानगर में 89


साभार - हरिभूमि 

haryana News, Rohtak Local News in Hindi, Rohtak Breaking News and Updates, Rohtak News Headlines, Rohtak Hindi News,latest news,news in hindi

खबरें और भी हैं..

अन्य समाचार