दुल्हन ने उतारा बारात का नशा, मां-बाप की बेइज्जती सहन नहीं कर पाई बेटी, दरवाजे से लौटा दी बारात

रोहतक , हिसार , | PUBLISHED BY: GARIMA-TIMES | PUBLISHED ON: 14 MAY, 2022

दुल्हन ने किया शादी से इंकार

दुल्हन ने किया शादी से इंकार

रोहतक। मेरी माता पिता और बहन भाई की इज्जत ख़राब कर दी। घोड़ी पर सवार होकर बोतल पी रहा था दूल्हा, कहता है शादी हो जाने दो यही पर लड़की को छोड़ जाऊंगा, जो लड़की के साथ जायेगा उसको वापिस नहीं आएगा। ऐसी बातें सुनकर कैसे शादी कर लेती। पहले तो शायद चली भी जाती लेकिन अब तो उस गंदे आदमी के साथ कभी शादी नहीं करुँगी। ये बाते कह रही है खुद एक दुल्हन। 

हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में रात के समय रोहतक के सांपला क्षेत्र से आई बरात को उस समय बैरंग लौटना पड़ा जब दोनों परिवारों के बीच कहासुनी हो गई। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच विवाद बढ़ने पर मारपीट हो गई। विवाद बढ़ने पर लड़की पक्ष ने शादी से इनकार कर दिया। 

विवाद के बाद खाली पड़ा पंडाल विवाद के बाद खाली पड़ा पंडाल 

बताया जा रहा है कि सांपला से आने वाली बरात को शाम चार बजे पहुंचने का समय दिया गया था। लेकिन बरात रात करीब 11 बजे पहुंची। दुल्हन पक्ष के लोग बरात के स्वागत के लिए पहुंचे तथा एक घंटे के अंदर लड़की के घर पहुंचने का समय दिया। लड़की पक्ष ने आरोप लगाया कि बराती नशे में देर रात तक डीजे बजाते रहे। दूल्हा भी नशे में धुत था। इसके बाद दोनों परिवारों के बीच कहासुनी हो गई और विवाद के बाद लड़की ने शादी से इंकार कर दिया। इस पर दूल्हे पक्ष के लोग बरात सहित लौट गए। 

जिले में दो लड़कियों की शादी थी। एक बरात को चार बजे तथा दूसरी को छह बजे पहुंचने का समय दिया गया था। एक बरात तय समय पर पहुंचकर शादी संपन्न करा दुल्हन को साथ ले गई।  दूसरी बरात लड़की पक्ष के घर जहाँ 6 बजे पहुंचनी थी वो रात 11 बजे पहुंची।  दुल्हन के परिजनों ने देखा कि दूल्हा तो घोड़ी पर ही बोतल पकड़े हुए था और बाराती नशे में धुत थे। कभी वे बैंड वालों को गलियां दे रहे थे तो कभी डीजे वालों को। कन्या पक्ष के लोगों ने लेट होने पर एतराज किया तो दूल्हे के परिजन बोले कि लेट कर दिया तो के हुआ हम सुबह छह बजे तक फेरे लेंगे।

इसके बाद दोनों पक्षों में विवाद हो गया। बातों बातों में विवाद इतना बढ़ गया कि दूल्हा पक्ष गाली गलौच पर उतर आया। उन्होंने लड़की के पिता और मामा को  अपशब्द कहने शुरू कर दिए। बात बढ़ती गई तो दोनों पक्षों के बीच हल्की मारपीट भी हुई। मारपीट होने के बाद परिजनों ने 112 पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस को परिजनों ने बताया कि उनका विवाद शांत हो गया है, इसके बाद पुलिस भी वापस गई। सुबह दोनों ही पक्ष थाने पहुंच गए लेकिन किसी भी पक्ष

द्वारा पुलिस को लिखित शिकायत नहीं दी गई। वर पक्ष ने सुबह नशा उतरने के बाद माफ़ी मांगी और लड़की को भेजने के लिए कहा लेकिन कन्या पक्ष ने शादी से इंकार कर दिया गया। लड़की को वर पक्ष के लोगों ने काफी समझाया लेकिन लड़की बोली जो शादी होने से पहले मुझे प्रताड़ित करने की धमकी दे रहा हैं और नशे में टुन रहने वाला है वो बाद में क्या करेगा। अच्छा हुआ जो इन लोगों की सच्चाई पहले ही सामने आ गई नहीं तो बाद में भी जिंदगी ख़राब ही होनी थी। इसके बाद दूल्हा पक्ष के लोग बरात सहित लौट गए। 

दुल्हन की माँ ने कहा कि हमारी दो बेटियों की शादी थी। हम इतने पैसे वाले नहीं है, सभी परिवारवाले मिलकर शादियां कर रहे थे। बड़ी बेटी की शादी हंसी ख़ुशी निपट गई और वो अपने घर चली गई लेकिन पता नहीं था कि छोटी बेटी की शादी होगी ही नहीं। वहीँ पिता ने कहा कि वो ऐसे घर में कभी अपनी बेटी की शादी नहीं करेंगे जो शादी से पहले ही छोड़ने की बात करता हो। बरात में दूल्हा सहित बराती नशे में धुत थे। दुल्हे ने भी शराब पी हुई थी। इसके बाद उनकी बेटी ने शादी करने से मना कर दिया। लड़का पक्ष के लोगों के साथ बैठक कर लिखित फैसला किया गया है। इसके बाद वह अपने घर चले गए।

दूल्हे के परिजनों का आरोप है कि जैसे ही कन्या पक्ष के घर के सामने पहुंचे तो लड़की वालों की तरफ से उनके बुजुर्गों के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट की। इसके बाद विवाद बढ़ गया। लेकिन दोनों पक्षों के बीच बातचीत से सुलह हो गई थी लेकिन कभी लड़की की मां मान जाती है तो पिता नहीं मानता तो कभी मामा नहीं मानता। लड़की से उनकी बात हुई है तो उसने कहा कि जैसा उसके माता-पिता चाहेंगे वह वैसा ही करेगी। उनकी तरफ से शादी कराने का पूरा प्रयास किया गया है। लेकिन लड़की पक्ष ने मना कर दिया है। वह लड़की को ले जाने को तैयार हैं। 

बता दें कि महेंद्रगढ़ शहर के पंचमुखी हनुमान मंदिर के पास रहने वाले सुरेश कुमार की दोनों लड़की मंजू व अंजू की शादी गुरुवार को तय थी। बड़ी लड़की मंजू की शादी गांव भालोठ जिला रोहतक निवासी के साथ तय कार्यक्रम केे अनुसार हो गई। उसकी छोटी लड़की अंजू की शादी गांव भापडोली सांपला निवासी जोगेंद्र के साथ तय थी। गांव भापडोली की बारात शहर के रोहिल्ला धर्मशाला में रूकी और ढुकाव के समय सभी बाराती नशे की हालत में थे। डीजे बजने को लेकर इनका रात्रि के करीब एक बजे आपस में झगड़ा हो गया। झगड़े की सूचना लड़की पक्ष के लोगों ने डायल-112 नंबर को दी। मौके पर पहुंची डायल-112 नंबर की गाड़ी ने झगड़े को शांत करवाया, फिर पुलिस वहां से चली गई। इसके बाद रात्रि के तीन बजे डीजे को लेकर इनका फिर से झगड़ा हो गया। आरोप है कि इस दौरान दूल्हा भी नशे की हालत में था और दूल्हे ने दुल्हन पक्ष के परिजनों के साथ भी हाथापाई की।

प्रभारी 112 एचसी विनोद कुमार ने कहा कि रात को दो बजे सूचना मिली थी कि एक शादी में आपसी कहासुनी हो गई है। सूचना के बाद मौके पर पहुंचकर समझाकर मामला शांत करा दिया था। दोनों पक्षों की तरफ से कोई भी शिकायत नहीं दी गई। उस समय दोनों पक्षों की रजामंदी भी करा दी थी।  

थोड़ी देर बाद दोबारा इसकी सूचना फिर परिजनों ने डायल-112 नंबर को दी। दोबारा आई गाड़ी ने झगड़े को फिर शांत करवाया। इसी से ऐतराज होकर दुल्हन पक्ष के लोगों ने दूल्हे को अपनी लड़की देने से इंकार कर दिया। शुक्रवार को दोनों पक्षों का सामाजिक तौर पर समझौता भी हो गया और कहा कि दोनों तरफ से जो भी सामान लिया और दिया गया है, वह वापिस कर दिया जाए। हालांकि शुक्रवार को ही आनन-फानन में इस दुल्हन का रिश्ता रोहतक निवासी एक युवक के साथ कर दिया गया और उसी दिन शादी भी हो गई।

हरियाणा न्यूज, haryana news, baraat returned without bride, braat returned, broken marriage, marriage broken, broken marriage in mahendragarh, broken marriage due to late arrival, Mahendragarh/Narnaul News in Hindi

खबरें और भी हैं..

अन्य समाचार