Navratri 2021: नवरात्रि के आंठवे दिन होती है मां महागौरी की पूजा,मां गौरी को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय

13 Oct, 2021 | देश धर्म | Anupma Raj

नवरात्रि (Navratri) के आंठवे दिन मां दुर्गा के आंठवे स्वरूप मां महागौरी की पूजा होती है। मां महागौरी (Goddess Mahagauri) भगवान शिव (God Shiva)की अर्धांगनी हैं। मां महागौरी का जन्म राजा हिमालय के घर देवी पार्वती के रूप में हुआ। मां पार्वती को आठ वर्ष की आयु में ही अपने पूर्व जन्म की घटनाओं का आभास होने लगा था। तब से ही मां पार्वती भगवान शिव को अपने पति के रूप में मान लिया था और भगवान शिव को पाने के लिए तपस्या शुरू कर दी थी। तपस्या के दौरान मां पार्वती ने केवल कंद मूल फल और पत्तों का आहार किया। बाद में सिर्फ वायु पीकर ही तप करना शुरू कर दिया। मां पार्वती की तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान शिव ने उन्हें गंगा स्नान करने को कहा। जैसे ही मां पार्वती स्नान करने गई उनका स्वरूप श्याम वर्ण के साथ प्रकट हुआ,जो कौशीकी देवी कहलाईं। मां पार्वती (Goddess Parvati) का दूसरा स्वरूप चंद्रमा के समान प्रकट हुआ, जो महागौरी कहलाई। मां महागौरी अपने भक्त की मुराद पूरी करती हैं और सभी समस्याओं से मुक्ति दिलाती हैं। साथ ही सभी व्यक्ति के सभी पाप भी नष्ट हो जाते हैं।मां महागौरी का स्वरूप बहुत ही उज्ज्वल कोमल,श्वेत वर्ण, श्वेत वस्त्रधारी है। मां महागौरी का सवारी वृषभ यानी बैल है। मां महागौरी के दाहिने हाथ अभयमुद्रा में है और वहीं मां महागौरी का बायां हाथ भगवान शिव का प्रतीक डमरू और नीचे वाला हाथ भी भक्तों को अभय दे रहा है। मां महागौरी के हाथ में डमरू होने के कारण मां महागौरी को शिवा भी कहा कहा जाता है। मां महागौरी का यह स्वरूप बेहद शांत और दृष्टिगत है।मां महागौरी को नारियल या नारियल से बनी चीजों का भोग लगाया जाता है। फिर भोग लगाने के बाद नारियल को ब्राह्मण को दे दें और प्रसाद स्वरूप भक्तों में बांट दें। इस दिन कन्या पूजन भी किया जाता है। आईए जानते है कि मां महागौरी को प्रसन्न करने के उपाय।

 

 

मां महागौरी की पूजा करते समय गुलाबी,पीले या सफेद वस्त्र धारण करने चाहिए। इससे मां महागौरी प्रसन्न होती हैं और अपने भक्त की मनोकामना पूरी कर देती हैं।

 

मां महागौरी की पूजा करते समय पीले फूल अर्पित करनी चाहिए। मां महागौरी को पीले फूल बेहद पसंद हैं इसलिए मां महागौरी को पूजा में पीले फूल अर्पित करें। 

 

मां महागौरी को प्रसाद के रूप में हलवा या काले चने का भोग लगानी चाहिए। इससे मां महागौरी बेहद प्रसन्न हो जाती हैं और अपने भक्तों की मनोकामना पूरी कर देती हैं। 

 

मां महागौरी को नारियल का भोग लगानी चाहिए। ऐसा करने से मां महागौरी प्रसन्न होती हैं। नारियल का भोग लगाने से संतान प्राप्ति होती है। इसलिए मां महागौरी को नारियल का भोग लगाएं।