हरियाणा में प्रेम कहानी का दुखद अंत, एसआई ने शादी के एक साल बाद ही गर्भवती पत्नी की करवाई हत्या 

16 Oct, 2021 | हरियाणा | garima times

यमुनानगर। हरियाणा में एक और प्रेम कहानी का दुखद अंत हो गया जब शादी के मात्र एक साल बाद ही रेलवे पुलिस के एसआई ने अपनी 5 माह की गर्भवती पत्नी की हत्या करवा दी। मामला यमुनानगर का है। यहां आरोपी रेलवे पुलिस में सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार किया गया है। पत्नी को अपने रास्ते से हटाने के लिए उसका एक्सीडेंट करवा कर उसे हादसे का रूप देने का प्रयास किया गया।

इस  मामले को सुलझाने का जिम्मा अपराध शाखा, यमुनानगर-1 को सौंपा गया था, जिस पर कार्रवाई करते हुए फरकपुर थाना एरिया में हत्या के एक मामले का खुलासा किया है। अपराध शाखा यमुनानगर-1 की टीम ने हत्या के मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया जिसे कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 15 अक्तुबर 2021 को उत्तर प्रदेश के जिला मुरादाबाद के गांव जफराबाद निवासी अफसर अली को अपराध शाखा -1 की टीम ने गिरफ्तार किया है। 

आरोपी ने अपनी ही पत्नी पांच माह की गर्भवती नजमा की  योजनाबंध तरीके से हत्या करवा दी। और आरोपी ने इस हत्या को सड़क हादसा बता दिया जब मामले का खुलासा अपराध शाखा - 1 की टीम ने किया तो मामला कुछ और ही निकला और हत्या के आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। आरोपी ने यह हत्या अपने चचेरे भाई के साथ मिलकर की थी । पुलिस टीम अन्य आरोपियों को भी शीघ्र गिरफ्तार करेंगी ।

पुलिस अधीक्षक  ने बताया कि आरोपी अफसर अली रेलवे पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पद पर तैनात था और उसकी बरेली निवासी नजमा के साथ प्रेम प्रसंग हुआ। उसके बाद उन्होंने 2019 में शादी कर ली । कुछ समय तो ठीक ही था लेकिन उसके बाद दोनों के बीच मनमुटाव हो गया और बात बात पर झगड़ा होने लगा। कुछ समय नजमा आपसी सहमति के बाद अपने घर चली गई, लेकिन नजमा के परिवार ने महिला थाने में आरोपी अफसर अली की शिकायत कर दी । वहां पर इनका आपस में समझौता हो गया और अफसर अली  फिर अपनी पत्नी को लेकर पृथ्वी नगर फर्कपुर में रहने लग गया। 

इस दौरान नजमा  5 माह की गर्भवती हो गई। लेकिन उनका झगड़ा खत्म नहीं हुआ। इस दौरान आरोपी ने अपने चचेरे भाइयों के साथ मिलकर अपनी पत्नी को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। आरोपी अफसर ने अपने चचेरे भाई व उसके दो दोस्तों के साथ मिलकर स्कॉर्पियो गाडी के साथ उसकी हत्या कर दी । पहले अफसर अली ने अपनी पत्नी को बाहर टहलने का बहाना बनाया और उसके बाद जब वह बाहर सड़क पर 24.09.2021 को टहलने लगे तो पीछे से उसका चेहरा भाई दो अन्य साथी स्कॉर्पियो लेकर आए और नजमा के ऊपर  चढ़ा दी । जिससे वह बुरी तरह घायल हो गई और उसे शहर के प्राइवेट अस्पताल में ले जाया गया। जहां उसकी मौत हो गई ।  टीम ने मामले को सुलझाया तो खुलासा हुआ कि यह सड़क हादसा नहीं बल्कि हत्या है। अब आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।