रोहतक में रिश्ते शर्मसार, चाचा ने नाबालिग भतीजी से किया दुष्कर्म, मां भी षड्यंत्र में शामिल 

रोहतक , सोनीपत , | PUBLISHED BY: GARIMA TIMES | PUBLISHED ON: 25 NOV, 2021

रोहतक। रोहतक जिले में एक फिर रिश्तों को तार-तार करने वाली घटना हुई है। रिश्तों को शर्मसार करता बहुत ही घिनौना मामला सामने आया है।  यहां एक सगे चाचा ने अपनी ही 15 वर्ष की नाबालिग भतीजी के साथ 6 माह तक दुष्कर्म करता रहा। इससे भी ज्यादा दर्द की इंतेहा तब हो गई जब इस कृत्य में उसकी माँ भी शामिल हो गई। मामला सांपला क्षेत्र के मटिंडू गांव का है। 

जानकारी के अनुसार रोहतक जिले के सांपला शहर के अंतर्गत आने वाले गांव मटिंडू की 15 वर्ष की किशोरी अपनी जान बचाने के लिए अपनों से ही भागती फिर रही है। वह कभी इस पुलिस स्टेशन के चक्कर लगा गुहार लगाती है तो कभी दूसरे पुलिस स्टेशन में लेकिन उसकी सुनने वाला कोई नहीं है। पुलिस की सवेंदनहीनता देखिये कि दोनों थाने अपने एरिया का केस न होने के चलते शिकायत तक दर्ज  नहीं कर रहे। हार कर कल किशोरी ने अपने संरक्षणों के साथ मिल डायल 112 पर फोन कर अपनी व्यथा बताई, लेकिन अभी भी उसकी शिकायत दर्ज नहीं की गई है। 

मामला यह है कि गांव मटिंडू की रहने वाली किशोरी ने बताया कि उसके सगे चाचा ने 6 महीने तक उसका यौन शोषण किया। उसने अपनी व्यथा अपनी मां को भी बताई लेकिन मां ने बेटी का साथ देने की बजाय देवर का साथ दिया। इसी बीच किशोरी गर्भवती हो गई। उसकी तबियत बिगड़ी तो मां और चाचा हॉस्पिटल ले गए और गर्भवती होने का पता चलने पर जबरदस्ती गर्भपात करवा दिया। उसे किसी को कुछ न बताने के लिए जान से मारने की कोशिश की जा रही है। किशोरी की बहन ने चाचा और मां की मिली भगत की कहानी अपने मौसेरे भाई को बताई तो वह साथ देने के लिए तैयार हुआ। 

अपनी जान का खतरा भांप किशोरी घर से भाग गई और इसमें उसकी बहन और मौसेरे भाई ने मदद की।  दोनों ने किशोरी को उसके मामा के घर पहुंचा दिया। अब किशोरी सांपला में छिप कर मामा के घर पर रह रही है।  उसे वहां भी जान से मारने की धमकियां मिलती रही। वह बहन और भाई के साथ पुलिस स्टेशन गई तो अपने इलाके का केस न होने की वजह से उसे टाल दिया गया। न तो उन्होंने केस दर्ज किया और न ही कोई छानबीन की। किशोरी परिजनों केसाथ मिल पंचकूला पुलिस मुख्यालय में भी गुहार लगा चुकी है। 

सांपला पुलिस का कहना है कि ये मामला मटिंडू गांव का है और वह सोनीपत जिले के अंदर आता है इसलिए वह इस मामले पर कोई कार्रवाई नहीं कर सकते। फिलहाल किशोरी अपनी जान की सलामती की पुलिस से गुहार लगा रही है। वह अपनी मां और चाचा के खिलाफ केस दर्ज करवाने के लिए जद्दोजहद कर रही है लेकिन अभी तक भी किशोरी की शिकायत पर पुलिस लापरवाही बरत रही है। 

रिश्तों को तार-तार , घिनौना मामला,नाबालिग भतीजी, सवेंदनहीनता,शिकायत

खबरें और भी हैं..

अन्य समाचार