खाली प्लॉट में खून से सने हुए थे 2 बोरे, जब खुले तो उड़ गए होश 

17 Oct, 2020 | Haryana |

गुरुग्राम। मुंह पर रुमाल रखे लोग आ जा रहे थे, बदबू से जीना मुहाल था, इसी लिए पुलिस को खबर दी गई थी। पुलिस ने वहां जाकर देखा कि दो खून से लथपथ बोरी रखी हुई हैं लेकिन जब पुलिस ने उसे खुलवा कर देखा तो उनके होश उड़ गए। दरअसल हरियाणा के गुरुग्राम  स्थित अशोक विहार फेज-3 में ट्रांसपोर्ट एजेंसी के ऑफिस के पास निर्माणाधीन बिल्डिंग के कमरे में दो बोरों में एक युवक का कटा हुआ शव मिला है। शव के तेजधार हथियार से दो टुकड़े किए गए थे। कमर से ऊपर का हिस्सा एक बोरे में जबकि नीचे का हिस्सा दूसरे बोरे में मिला है। मृतक के हाथ पर संदीप लिखा हुआ था। सेक्टर-5 थाना में अज्ञात के खिलाफ हत्या व साक्ष्य छुपाने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है।

सेक्टर-81 स्थित बेस्टेक पार्क व्यू आनंदा सोसायटी निवासी साहिब कालरा ट्रांसपोर्टर हैं। उनका ऑफिस अशोक विहार फेज-3 में सराय वाले रोड पर है। रात करीब 8 बजे वह ऑफिस में ही बैठे थे। तभी उनका नौकर शकील अहमद आया और बोला कि करीब 20 कदम आगे बन रहे निर्माणाधीन मकान के एक कमरे में 2 बोरे रखे हैं, जिनसे काफी बदबू आ रही है। ट्रांसपोर्टर तुरंत वहां पहुंचा तो देखा कि एक बोरा ऊपर से बंद था जबकि दूसरा खुला। खुले बोरे में झांककर देखा तो किसी युवक का हाथ उसमें दिखा। यह देख उनके चेहरे की हवाईंयां उड़ गईं। मामले की सूचना तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम में दी गई। 

पुलिस टीम मौके पर आई। लेकिन हालात देखकर उन्होंने एसीपी व एसएचओ को कॉल कर सूचना दी। सूचना मिलते ही सेक्टर-5 थाना पुलिस, क्राइम ब्रांच व आला-अधिकारी मौके पर पहुंचे। सीन ऑफ क्राइम टीम से डॉक्टर विनोद कुमार भी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। फोटोग्राफी करा दोनों बोरे खुलवाए गए। लाल रंग के प्लास्टिक बोरे में से सफेद रंग का बोरा निकला। इस बोरे में शव का कमर से ऊपर का हिस्सा था। फिर दूसरा बोरा खोला गया तो उसमें भी सफेद रंग के प्लास्टिक कट्टे में कमर से नीचे का शव का हिस्सा था। सीन ऑफ क्राइम टीम के एक्सपर्ट ने दोनों बोरे से निकले शव के हिस्सों को साथ रखकर मिलान किया तो ये एक ही व्यक्ति के मिले। 

मृतक की उम्र करीब 25 से 30 साल होने का अंदाजा लगाया गया है। मृतक की पूरी बॉडी को चेक किया गया। मृतक के दाएं हाथ पर संदीप नाम लिखा हुआ है। उसी हाथ के पंजे पर ओम का निशान भी है। मृतक के गले में काले रंग का एक लॉकेट भी मिला है। कमर से ऊपर के हिस्से पर सफेद रंग की बनियान है। जबकि निचले हिस्से में काले रंग की पेंट व चमड़े की बेल्ट मिली है। दोनों पैरों में नीले रंग की जुराब हैं। दोनों पैरों की हड्डी को घुटनों से तोड़ा गया है। 

मौके पर खून के कोई निशान नहीं मिले हैं। ऐसे में पुलिस ने आशंका जताई है कि मृतक की हत्या कर शव को काटकर बोरों में डाला गया। फिर इन बोरों को इस कमरे में रखा गया है। शव के हालत खराब होना शुरू हुए तो बदबू आने लगी। ऐसे में पुलिस को शक है कि हत्या दो-तीन पहले की गई हो। लेकिन असलियत पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में ही सामने आएगी।

सीन ऑफ क्राइम टीम की जांच में सामने आया कि शव के दांईं ओर गर्दन पर तेजधार हथियार से वार के निशान है। तेजधार हथियार से गर्दन को काटने का प्रयास किया गया। इसके अलावा कंधे पर भी तेजधार हथियार से गहरे वार के कई निशान हैं।

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह ने बताया कि मृतक की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने आशंका जताई कि पहनावे से लगता है कि मृतक हरियाणा के किसी शहर का हो सकता है। हत्या के कारण व हत्यारों के बारे में कुछ जानकारी पहचान होते ही मिल जाएगी। आस-पास के पूरे एरिया में सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक कराई जा रही है। क्राइम ब्रांच की टीम को भी जांच में लगाया गया है।