बीमार पिता को अस्पताल मिलने जा रहे घर का इकलौता चिराग,रास्ते में ही...

30 Oct, 2020 | Punjab |

जालंधर, पंजाब: बुधवार देर रात जालंधर-जम्मू राष्ट्रीय मार्ग पर भोगपुर शहर के वार्ड डाली सामने सड़क हादसे में एक युवक की मौत हो जाने की ख़बर सामने आयी  है जिसकी  6 महीने पहले ही शादी हुई थी।जानकारी के अनुसार बुधवार देर रात सतीश कुमार उर्फ रिंकू (23) पुत्र भजन सिंह अपने पिता से मिलने के लिए  मोटरसाईकल पर सवार होकर भोगपुर से जालंधर की तरफ जा रहा था। दरअसल उसके पिता भजन सिंह दिल की बीमारी के कारण जालंधर के एक निजी अस्पताल में उपचारधीन थे। सतीश अपने माँ-बाप का इकलौता पुत्र था, जब भोगपुर के पास पहुंचा तो अज्ञात वाहन के साथ टकरा गया। टक्कर इतनी जोरदार थी कि सतीश कुमार ने हादसे वाली जगह पर ही दम तोड़ दिया। 
एकत्रित हुए लोगों ने इसकी सूचना भोगपुर पुलिस को दी और थानेदार सतपाल सिंह बाजवा घटना वाली जगह पर पहुंचे और जांच शुरू की। पुलिस की तरफ से इस हादसे संबंधी मृतक सतीश के चाचा करनैल सिंह के ब्यानों के आधार पर  अंतर्गत कार्यवाही की गई है। करनैल सिंह ने इस हादसे को कुदरती बताया है और कोई कार्यवाही करवाने से इंकार कर दिया। पुलिस की तरफ से धारा 174 के अंतर्गत कार्यवाही कर सतीश का शव परिवार को सौंप दिया है।
पंजाब सरकार के निर्देशों अनुसार पुलिस प्रशासन की तरफ से नाके तक पुलिस पैटरोलिंग गाड़ी नंबर 16 कई साल पहले शुरू की गई थी। इस पैटरोलिंग गाड़ी का स्टाफ कोई भी सड़क हादसे पर तुरंत मौके पर पहुंच जाता था और ज़ख़्मियों को तुरंत अस्पतालों में पहुंचा दिया जाता था। पिछले एक महीने से पुलिस प्रशासन की तरफ से इस मार्ग पर चलने वाली पैटरोलिंग गाड़ी नंबर 16 को बंद कर दिया गया है। बीती रात हादसे का शिकार सतीश को जालंधर लेकर जाने के लिए भोगपुर के अस्पताल की तरफ से पुलिस को एंबुलेंस गाड़ी न दी गई, जिस कारण मृतक की लाश दो घंटे बीच सड़क पड़ी रही। आखिर भोगपुर के अस्पताल के प्रबंधकों ने जालंधर गई अपनी ऐंबलैंस को वापस मंगवा कर मृतक की लाश को जालंधर सिविल अस्पताल भेजा।