हिंदू परिवार ने मुस्लिम लड़की को दफनाने के लिए दी जमीन

07 Jul, 2020 | Jind | garima times

जींद। जींद के एक गांव गुलकनी में साम्प्रदायिक सौहार्द की मिसाल देखने को मिली है जहां एक हिंदू परिवार अपने मुस्लिम पड़ोसियों की मदद के लिए सामने आए। मुस्लिम परिवार में बीते सोमवार को एक 13 वर्षीय लड़की मौत हो गई, जिसको दफनाने के लिए हिंदु परिवार ने अपनी जमीन का हिस्सा दिया। दरअसल कब्रिस्तान में जलजमाव की वजह से उसे दफनाया नहीं जा सकता था, ऐसे में हिंदू परिवार मदद के लिए आगे आया। जिसके बाद लड़की को दफनाया जा सका।  

दरअसल पूरा मामला जींद के गुल्कानी गांव का है जहां के कई मुस्लिम परिवारों ने आरोप लगाया कि वे पिछले 10 सालों से अपने परिजनों को दफनाने में समस्या का सामना कर रहे हैं, लेकिन सभी सरपंचों और जिला प्रशासन ने समस्या को हल करने के लिए कुछ नहीं किया। मुस्लिम परिवार के लोगों का कहना है कि लड़की की मौत हो जाने के बाद कई जगहों पर संपर्क करने के बावजूद दोपहर तक उसका अंतिम संस्कार करने के लिए जगह का इंतजाम नहीं पा रहा था। आखिर में हिंदू समुदाय के एक व्यक्ति ने बेटी का अंतिम संस्कार करने के लिए श्मशान के पास जमीन का एक टुकड़ा देकर उनकी मदद करने का फैसला किया। 
लड़की के पिता जोगिंदर ने बताया कि जिला प्रशासन हमारी मांगों को पूरा करने में नाकाम रहा है। हम एक छोटा सा जमीन का टुकड़ा पाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन कोई भी इस मुद्दे को हल करने के लिए तैयार नहीं है। वहीं इस बीच एक हिंदू परिवार आगे आया और उन्होंने हमें श्मशान के पास की जमीन देकर हमारी मदद की। पड़ोसी किसान को नहर का पानी मिलने की बारी के बाद अपने खेत की सिंचाई करनी पड़ती है, फिर भी उसने अपनी जमीन की पेशकश की। जबकि अधिकारी इस लंबे समय तक इस मुद्दे को हल करने में नाकाम रहे हैं। उनका कहना है कि हम एक स्थायी समाधान चाहते हैं। 

वहीं गाँव के सरपंच जयदीप सिंह ने कहा, गांव में 16 जातियां रहती हैं और सभी सौहार्द और भाइचारे की भावना से रहते हैं। लगातार हो रही बारिश से कब्रिस्तान में जल जमाव हो गया है। मैंने पानी के निकास के लिए दो व्यक्तियों को पास के खेत में पाइपों के माध्यम से नियुक्त किया है। हम जल्द ही एक व्यवस्था करेंगे ताकि हमारे मुस्लिम परिवारों को भविष्य में गाँव में किसी परेशानी का सामना न करना पड़े।