दिल्ली में कोरोना ने फिर मचाया कहर, परेशान करने वाली हुई हालात

23 Feb, 2021 | Delhi |

सांकेतिक फोटो

नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में एक बार फिर से कोरोना अपनी बैक एंट्री कर रहा है। इसी कड़ी में दिल्ली की स्थिति भी गंभीर हो सकती है। बताना लाजमी है कि दिल्ली में संक्रमण एक बार फिर बढ़ता दिख रहा है। खासकर सोमवार की रिपोर्ट थोड़ी चिंताजनक कही जा सकती है, क्योंकि सोमवार को पिछले पांच दिनों में सबसे ज्यादा संक्रमण रेट दर्ज हुआ है और वहीं रविवार की तुलना में 6 कंटेनमेंट जोन में भी इजाफा हुआ है।

पिछले पांच दिनों की तुलना में सोमवार को दिल्ली में 18 से 20 हजार कोविड टेस्ट कम हुए हैं, लेकिन संक्रमण रेट इन पांच दिनों में सबसे ज्यादा 0.30 पर्सेंट दर्ज हुआ है। यही नहीं केंटनमेंट जोन एक दिन में ही 631 से बढ़ कर 637 तक पहुंच गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार सोमवार को दिल्ली में सिर्फ 42 हजार सैंपल की जांच की गई थी, लेकिन इसमें से 0.30 पर्सेंट सैंपल पॉजिटिव पाए गए। सोमवार को 128 नए मरीज की पुष्टि हुई। लेकिन, अगर हम इसकी तुलना एक दिन पहले यानी रविवार से करें तो स्थिति चिंताजनक कही जा सकती है।

रविवार को दिल्ली में 63,813 सैंपल की जांच की गई थी और इसमें से 0.23 पर्सेंट सैंपल पॉजिटिव पाए गए। रविवार की तुलना में सोमवार को 21,571 सैंपल की कम जांच हुई, लेकिन 0.07 पर्सेंट पॉजिटिव रेट में इजाफा हुआ है। यही नहीं, सबसे चिंता की बात यह है कि दिल्ली में कोविड की संख्या कम होने की वजह से लगातार कंटनेमेंट जोन कम हो रहे थे, रविवार को यह कम होकर 631 आ गए थे, लेकिन सोमवार को यह बढ़ कर 637 तक पहुंच गए। तो वहीं मैक्स हॉस्पिटल के कोविड एक्सपर्ट डॉ. रोमेल टिक्कू का कहना है कि अभी यह वायरस खत्म नहीं हुआ है, महामारी बरकार है।

इसलिए हम सभी को कोविड गाइडलाइन का पालन करते रहना चाहिए। जिस तरह से महाराष्ट्र व केरल में मामले बढ़ रहे हैं वह जरूर चिंताजनक है। लेकिन इससे डरने के बजाए हमें सख्ती से नियम का पालन करना चाहिए। दिल्ली में कोरोना को लेकर जारी सोमवार की रिपोर्ट भी कुछ ऐसा ही संकेत दे रही है कि आने वाले दिनों में संक्रमण की रफ्तार बढ़ सकती है। इसलिए अगर इसे कंट्रोल करना है तो अभी सही वक्त है। मास्क पहनें, दूरी बनाकर रहें, भीढ़ में न जाएं और जब भी मौका मिले वैक्सिनेशन कराएं।