हरियाणा में फिर डराने लगा कोरोना, चार जिलों में बढ़ रहे नए मामले

23 Feb, 2021 | Haryana | garima times

चंडीगढ़।  हरियाणा में कोरोना को लेकर लोग एक बार फिर से लापरवाह  होते नजर आ रहे हैं। जिसके चलते प्रदेश में औसतन 100 कोरोना के मरीज हर रोज सामने आ रहे हैं। खासकर एनसीआर में शामिल गुरुग्राम के साथ ही जीटी रोड बेल्ट के करनाल, कुरुक्षेत्र और पंचकूला में कोरोना के केस तेजी से बढ़े हैं। प्रदेश के यह चारों जिले देश के उन 90 जिलों में शामिल हैं जहां कोरोना के सर्वाधिक मामले सामने आ रहे हैं। इसके चलते सभी जिलों में मास्क के दोबारा चालान काटने शुरू हो गए हैं ताकि लोग जागरूक हो और कोरोना से हो रही हानि को लेकर सतर्क रहें। 

नए साल का आगाज होते ही कोरोना पूरी तरह बैकफुट पर आ गया था। अचानक 20 जनवरी के बाद संक्रमितों की संख्या में इजाफा होना शुरू हो गया। फरवरी माह का पहला पखवाड़ा थोड़ा ठीक रहा, लेकिन दूसरे पखवाड़े में लापरवाही से कोरोना ने फिर से जकड़न बनानी शुरू कर दी। प्रदेश में तीन दिन से लगातार 100 से अधिक लोगों की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आ रही है। फिलहाल विभिन्न जिलों में 874 एक्टिव केस हैं।

संक्रमण बढ़ने का सबसे बड़ा कारण लापरवाही है। सार्वजनिक स्थलों पर मास्क पहनने से अधिकतर लोग परहेज कर रहे हैं और भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में भी कोई पाबंदी नहीं है। इसी ढिलाई के चलते कोरोना फिर हावी होकर डराने लगा है। बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग भी सतर्क हो गया है। सोमवार को कुल 23 हजार 318 और कोरोना वारियर्स ने टीके लगवाकर महावारी से बचाव का सुरक्षा चक्र पहना। अभी तक दो लाख 60 हजार 652 लोग कोरोना वैक्सीन ले चुके हैं।

विगत एक महीने की बात करें तो 22 जनवरी से लेकर अब तक 2800 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि 3400 मरीज ठीक होकर घरों को लौटे हैं। राहत की बात यह कि इस अवधि में सिर्फ 37 लोगों की सांसें ही कोरोना से थमी हैं। इस दौरान पांच लाख 12 हजार 591 लोगों के सैंपल लिए गए। कोरोना के खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने सैंपल लेने की रफ्तार भी बढ़ा दी है। अभी तक कुल 55 लाख 54 हजार 991 लोगों के सैंपल लिए गए हैं जिनमें दो लाख 65 हजार 827 लोग संक्रमित मिले हैं।